Breaking News
दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का 81 साल की उम्र में निधन, अस्पताल में पड़ा दिल का दौरा, कल होगा अंतिम संस्कार !   |  भारत रक्षा मंच के स्थापना दिवस पर विचार गोष्ठी का आयोजन   |  बाबरपुर विधायक मोहल्ला क्लीनिक के नाम घोटालों को दे रहे है अंजाम---वी के शर्मा  |  गोरखपुर: गाड़ी न मिलने पर निकाह के बाद हुआ जमकर हंगामा   |  जे.पी.नड्डा बने भाजपा के नए राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष , शाह बने रहेंगे पार्टी चीफ !   |  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पीएमओ स्टाफ को संबोधित करते हुए कहा "थैंक्यू" बोले - समर्पित टीम के बिना नहीं मिलता परिणाम, खुद के अंदर लीडरशिप होना बहुत जरूरी - पीएम मोदी   |  पीएम मोदी को NDA संसदीय दल ने चुना अपना नेता , राष्ट्रपति से मिलकर पेश किया सरकार बनाने का दावा , कहा सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास हमारा मंत्र - मोदी  |  CBSE Board 2019 : 10वीं और 12वीं कंपार्टमेंट की डेटशीट जारी, जाने पूरी जानकारी ।  |  शिव की भक्ति में लीन पीएम मोदी पहुंचे केदारनाथ धाम ,पूजा-अर्चना के बाद लिया पुनर्निर्माण कार्यों का जायजा,12250 फीट की ऊंचाई पर गुफा में करेंगे ध्यान !   |  गोरखपुर: लोकसभा चुनाव 2019 को शांतिपूर्ण कराने के लिए पंजाब पुलिस ने किया फ्लैग मार्च  |  
न्यूज़ ग्राउंड विशेष
By   V.K Sharma 03/03/2019 :21:53
पुलवामा हमले के मास्टरमाइंड मसूद अजहर की मौत का क्या है सच, कही यह पाकिस्तान की कोई नई रणनीति तो नही ,
Total views  348





नई दिल्ली (न्यूज ग्राउंड) आकाश मिश्रा :  खूंखार आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मौलाना मसूद अजहर के मौत की खबर आ रही है सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, वह लिवर कैंसर से जूझ रहा था और इस्लामाबाद के आर्मी अस्पताल में उसकी 2 मार्च को मौत हो गई.  हालांकि न्यूज़ ग्राउंड को अभी इस खबर की पुर्ण आधिकारिक पुष्टि नहीं करता है. दो दिन पहले ही पाकिस्तान ने यह स्वीकार किया था मसूद अजहर पाकिस्तान में है.मसूद अजहर पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई की निगरानी में है.  बताया जा रहा है कि पाकिस्तानी सेना की अनुमति के बाद ही मसूद की मौत की आधिकारिक घोषणा की जाएगी.हालांकि, जैश-ए-मोहम्मद या पाकिस्तान ने मसूद अजहर की मौत की पुष्टि की नहीं की है और न ही उसके संबंध में कोई जानकारी दी है.हाल ही में  दिए एक इंटरव्यू में पाकिस्तान के विदेश मंत्री महमूद कुरैशी ने कहा था,  'जितना मेरी जानकारी है वह काफी बीमार है. वह इतना बीमार है कि वह घर से बाहर नहीं जा सकता.' विदेश मंत्री ने दावा किया था कि जैश-ए-मौहम्मद ने पुलवामा आतंकी हमले की जिम्मेदारी ली है. वहीं रिटायर्ड कर्नल आशीष खन्ना ने कहा कि हो सकता है कि मौलाना मसूद एयर स्ट्राइक में ही घायल हुआ और उसी कैम्प में रहा हो जिस पर स्ट्राइक हुई. और अब इलाज के दौरान मरा हो, लेकिन पाकिस्तान इस बात को भी छुपाना चाहता होगा. और वही दूसरीओर पाक की मीडिया रिपोर्ट में जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर की मौत का दावा किया जा रहा है। वह पिछले महीने पुलवामा में हुए आतंकी हमले का मास्टरमाइंड है।  हालांकि, जैश ने एक बयान जारी कर इन खबरों का खंडन किया। जैश ने कहा- मसूद अजहर जिंदा और ठीकठाक हैं। जानकारी हैं कि भारतीय वायुसेना ने 26 फरवरी की कार्रवाई को लेकर कहा था कि इस बात पर सरकार फैसला करेगी कि एयर स्ट्राइक के सबूत सार्वजनिक किए जाएं या नहीं। हालांकि, इंडियन एयरफोर्स ने कहा था कि हमारे पास रडार और इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों द्वारा पर्याप्त सबूत इकट्ठा किए गए हैं, जो साबित करते हैं कि आतंकी ठिकानों को नुकसान पहुंचा है। 14 फरवरी को पुलवामा हमले में सीआरपीएफ के 44 जवान शहीद हुए थे। जवाब में भारत ने खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के बालाकोट में जैश के ठिकानों को तबाह किया। इसमें 350 आतंकी मारे गए।वहीं, रक्षा विशेषज्ञ मसूद अजहर के मारे जाने की खबर को पाकिस्तान की चाल मान रहे हैं. आपको बता दें कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद से भारत समेत दुनिया के देशों का जैश-ए-मोहम्मद और उसके सरगना पर कार्रवाई का पाकिस्तान पर जबरदस्त दबाव है. माना जा रहा है कि अंतरराष्ट्रीय दवाब से बचने के लिए पाकिस्तान ने मसूद अजहर के मारे जाने की अफवाह उड़ाई है.ट्विटर पर मसूद अजहर के मरने की खबर ट्रेंड कर रही है. लोग इस खबर को खूब ट्वीट और रिट्वीट कर रहे हैं. ट्विटर यूजर देविका ने ट्वीट किया कि भारतीय मीडिया फिर से पाकिस्तान के प्रोपेगैंडा को चला रही है. मसूद अजहर जिंदा भी हो सकता या नहीं भी जिंदा हो सकता है, लेकिन बिना किसी खुफिया जानकारी के मसूद को मरा बताना मूर्खता है. याद रहे कि पाकिस्तान मसूद अजहर को अंतरराष्ट्रीय दबाव से बचा रहा है.एक यूजर भीम श्रीवास्तव ने ट्वीट किया, 'मौलाना मसूद अजहर के मरने की रिपोर्ट आई है. हालांकि अभी पाकिस्तान सरकार द्वारा इसका आधिकारिक दावा किया जाना बाकी है, लेकिन पाकिस्तान की स्थानीय मीडिया में यह खबर चल रही है. भारतीय वायुसेना की एयर स्ट्राइक में अजहर गंभीर रूप से घायल हो गया था.सोशल मीडिया पर खूंखार आतंकी मसूद अजहर की मौत की खबर तेजी से फैल रही है. इसमें खुफिया सूत्रों का हवाला दिया जा रहा है. इससे पहले मसूद अजहर के हॉस्पिटल में भर्ती होने की खबर आई थी, जहां उसके किडनी से जुड़ी बीमारी का इलाज चल रहा था. आपको बता दें कि पुलवामा आतंकी हमले को जैश-ए-मोहम्मद ने अंजाम दिया था,  इसके बाद भारत ने पाकिस्तान के बालाकोट में घुसकर एयर स्ट्राइक की थी और जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों को तबाह किया था. भारतीय वायुसेना की कार्रवाई में मसूद अजहर का साला यूसुफ अजहर भी मारा गया था. भारत की इस कार्रवाई की पाकिस्तान को भनक तक नहीं लगी थी, जब उसको इसका पता चला, तो वह बौखला गया. इसके बाद पाकिस्तान ने भारत में हवाई हमले किए, जिसका भारतीय वायुसेना ने मुंहतोड़ जवाब दिया. इस दौरान भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के एफ-16 लड़ाकू विमान को भी मार गिराया था. इस हवाई भिड़ंत में भारत का लड़ाकू विमान मिग-21 भी हादसे का शिकार हो गया था


 

जैश चीफ की मौत की खबरों को जांच रही हैं खुफिया एजेंसियां : भारत की खुफिया एजेंसियां यह पता लगाने की कोशिश कर रही हैं कि जैश चीफ अजहर की मौत की खबरों में कितनी सच्चाई है। एक अधिकारी ने बताया िक वह आर्मी के अस्पताल में अपना इलाज करवा रहा है, इसके अलावा हमारे पास कोई सूचना नहीं है।

 

मसूद के भाई का ऑडियो वायरल : अजहर का भाई अम्मार एक ऑडियो में कह रहा है कि भारतीय सेनाओं ने मजहबी तालीम देने वाले संस्थानों को निशाना बनाया। यहां प्रशिक्षण पाने वाले दिनभर जिहाद के सिद्धांत को समझते थे। यहां तालीम पाने वाले लोग कश्मीर के मुसलमानों की मदद को अपना फर्ज समझते थे और वहां की मां-बहनों के दर्द को अपना दर्द समझते थे। उसने (भारत) हमारे मुल्क में घुसकर हमला किया। ऐसा करके उसने खुद ही हमारे मुल्क के खिलाफ जंग का ऐलान कर दिया।

 

आर्मी अस्पताल में है मसूद अजहर: रिपोर्ट : पिछले दिनों पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कबूला था कि अजहर उनके देश में है और बेहद बीमार है। रिपोर्ट्स में कहा जा रहा था कि अजहर रावलपिंडी में आर्मी के अस्पताल में इलाज करा रहा है। भारतीय अफसरों के मुताबिक, मसूद की किडनी खराब है।


 

संसद, पठानकोट और पुलवामा हमले का मास्टरमाइंड : मसूद अजहर ने भारत में सबसे ज्यादा खतरनाक आतंकी हमलों को अंजाम दिया है। 2001 में संसद हमले, 2008 में मुंबई हमले, 2016 में पठानकोट एयरबेस और 2019 में पुलवामा में सीआरपीएफ हमले के पीछे मसूद अजहर का हाथ है।

 

1994 में भारत में गिरफ्तार हुआ था अजहर मसूद : जैश सरगना मसूद अजहर को अनंतनाग से फरवरी 1994 में गिरफ्तार किया गया था। 1994 में अजहर पुर्तगाल के पासपोर्ट पर बांग्लादेश के रास्ते भारत में दाखिल हुआ था। इसके बाद वो कश्मीर पहुंचा। हालांकि, 1999 में कंधार विमान अपहरण के बाद यात्रियों की सलामती के ऐवज में अजहर को तत्कालीन भाजपा सरकार ने छोड़ दिया था।



V.K Sharma
Editor in Chief
Live Tv
»»
Video
»»
Top News
»»
विशेष
»»


Copyright @ News Ground Tv