Breaking News
गोरखपुर: गुरुनानक के जयघोष से गुंजायमान रहा वातावरण,हर्षोल्लास से मना 550वां प्रकाश पर्व..  |  Ayodhya Case Verdict 2019: सुप्रीम कोर्ट के ऐतिहासिक फैसले से श्री राम का वनवास खत्म, मंदिर निर्माण का रास्ता साफ, कोर्ट में महत्वपूर्ण साबित हुईं ये दलीलें,पढ़िए पूर्ण विश्लेषण !  |  अयोध्या फैसले को लेकर भटहट क्षेत्र में लिया गया सुरक्षा का जायजा और लोगों से शांति बनाए रखने की गई अपील  |  श्री साधुमार्गी जैन श्रावक संघ द्वारा विशाल रक्तदान शिविर का आयोजन A.I.I.M.S के तत्वाधान में किया गया।  |  गोरखपुर:चैनल में करंट उतर से एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत  |  चुनाव आयोग ने महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनाव की तारीखों का किया ऐलान, ये 4 मुद्दे हो सकते हैं भाजपा के लिए गेमचेंजर !   |  दिल्ली यूनिवर्सिटी छात्रसंघ चुनाव 2019 : अध्यक्ष समेत तीन सीटों पर ABVP की जबरदस्त जीत, NSUI को मिला सचिव पद !  |  रांची पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी, झारखंड को दी 7 नई सौगातें !   |  देहदान अंगदान समाज की एक बड़ी जरूरत - हर्ष मल्होत्रा  |  वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी का 95 साल की उम्र में निधन, राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने जताया शोक, सुब्रमण्यम स्वामी ने लिखा- `अलविदा दोस्त`   |  
कारोबार
By   V.K Sharma 25/06/2018 :16:57
मिनिमम बैलेंस की चिंता छोडिये देश के इन बैंकों में खाता खोलिए !
Total views  617
एसबीआई के बेसिक सेविंग बैंक डिपॉजिट अकाउंट में कोई भी सालाना मेंटेनेंस चार्ज नहीं लगता है। इसमें एनईएफटी/ आरटीजीएस माध्यम के जरिए इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट से जमा और निकासी मुफ्त में की जाती है। इसमें केन्द्र/राज्य सरकारों के द्वारा जारी चेक पर जमा/निकासी की सुविधा भी फ्री में दी जाती है।


नई दिल्ली (न्यूज़ ग्राउंड) : अगर आप अपने बैंक खाते में मिनिमम एवरेज बैलेंस रखने को लेकर परेशान रहते हैं, तो हमारी यह खबर आपके काम की है। दरअसल देश के अधिकांश बैंक आपको इस समस्या का समाधान देते हैं। यह समाधान है बेसिक सेविंग बैंक डिपॉजिट अकाउंट (बीएसबीडी)। देश के तमाम प्रमुख बैंक इसका विकल्प देते हैं। इन खातों में मिनिमम बैलेंस रखने की जरूरत नहीं होती है। इतना ही नहीं अगर आप इन खातों में एक भी पैसा नहीं रखते हैं तो आपको कोई पेनाल्टी भी नहीं देनी होती है। देश के प्रमुख बैंक जैसे कि स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, आईसीआईसीआई और एचडीएफसी बैंक आपको बेसिक सेविंग बैंक डिपॉजिट अकाउंट खोलने की सुविधा देते हैं। आप अपनी सुविधानुसार इनका चयन कर सकते हैं।
भारतीय स्टेट बैंक  में बीएसबीडी अकाउंट खुलवाने के फायदे: सार्वजनिक क्षेत्र के प्रमुख बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) की आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक इस खाता के खाताधारकों को रुपे एटीएम-कम डेबिट कार्ड बिना किसी शुल्क के उपलब्ध करवाया जाता है। एसबीआई के बेसिक सेविंग बैंक डिपॉजिट अकाउंट में कोई भी सालाना मेंटेनेंस चार्ज नहीं लगता है। इसमें एनईएफटी/ आरटीजीएस माध्यम के जरिए इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट से जमा और निकासी मुफ्त में की जाती है। इसमें केन्द्र/राज्य सरकारों के द्वारा जारी चेक पर जमा/निकासी की सुविधा भी फ्री में दी जाती है। 
ब्याज दर : भारतीय स्टेट बैंक  बीएसबीडी अकाउंट पर वही ब्याज दर देती है जो बचत खाते पर देती है। बैंक के सेविंग अकाउंट में अधिकतम एक करोड़ रुपये की जमा राशि पर सालाना आधार पर 3.5 फीसद का ब्याज दिया जाता है। वहीं बचत खाते में एक करोड़ रुपये से ज्यादा बैलेंस पर सालाना चार फीसद की दर से ब्याज दिया जाता है। 
आईसीआईसीआई में बीएसबीडी खाता खुलवाने के फायदे : आईसीआईसीआई बैंक मूल शाखा (ब्रांच) पर अपने बीएसबीडी खाते पर खाताधारकों को पासबुक की सुविधा देता है। इस खाते में डेबिट कार्ड के जरिए प्रतिदिन पैसे निकालने की लिमिट दस हजार रुपये तक होती है। हालांकि यह बैंक अपने ग्राहकों को एसबीआई की तरह इस खाते पर रकम निकालने और एटीएम से लेन-देन की सुविधा नहीं देता है। आईसीआईसीआई बीएसबीडी वाले ग्राहकों के लिए 15 पृष्ठों वाली चेकबुक जारी करता है। हर अतिरिक्त चेकबुक के लिए अतिरिक्त 30 रुपये देने होते हैं। इन अकाउंट होल्डर्स के लिए आईसीआईसीआई की इंटरनेट बैंकिंग सुविधा निशुल्क है।


ब्याज दर : आईसीआईसीआई भी बीएसबीडी अकाउंट पर उतना ही ब्याज देती है जितना सेविंग अकाउंट पर देती है। 50 लाख रुपये से कम बैलेंस रखने वालों को बैंक 3.5 फीसद सालाना ब्याज देता है जबकि 50 लाख से ज्यादा बैलेंस के लिए बैंक 4 फीसद का ब्याज देती है।

एच.डी.ऍफ़.सी.  बैंक में बीएसबीडी अकाउंट खुलवाने के फायदे: एचडीएफसी बीएसबीडी अकाउंट होल्डर्स को सेफ डिपॉजिट लॉकर और सुपर सेवर फैसिलिटी की सुविधाएं देता है। इसके अलावा बैंक ग्राहकों को सभी ब्रांच से एटीएम निकासी, निशुल्क पासबुक, कैश और चेक से जमा एवं निकासी, रुपे कार्ड, आजीवन बिल पे, तुरंत शिकायत निवारण और ईमेल से स्टेटमेंट की सुविधा भी देता है। एसबीआई की ही तरह इसमें आप एक महीने में चार बार पैसों की निकासी कर सकते हैं। अगर निकासी महीने में चार बार से ज्यादा बार की जाए तो बैंक बीएसबीडी अकाउंट को साधारण खाते में बदल देता है। इसके बाद अकाउंट पर साधारण बैंक बचत खाते के सभी नियम लागू किए जाते हैं। नेट बैंकिंग या मोबाइल बैंकिंग से आप अपने खाते का बैलेंस भी चेक कर सकते हैं।

ब्याज दर : एचडीएफसी बैंक जीरो बैलेंस अकाउंट के लिए 50 लाख से कम की राशि पर 3.50 फीसद ब्याज देता है। वहीं 50 लाख या उससे ज्यादा के लिए ब्याज दर चार फीसद दिया जाता है। ये ब्याज दरें एचडीएफसी बैंक के सामान्य बचत खाते के बराबर है।



V.K Sharma
Editor in Chief
Live Tv
»»
Video
»»
Top News
»»
विशेष
»»


Copyright @ News Ground Tv